बेटे ने अपने ही माता-पिता को गोलियों से भुना…जानिए क्यों?

उत्‍तर प्रदेश के एक छोटे से गाँव में बहरोली गांव में वकील बेटे ने अपने रिटायर्ड अध्यापक पिता और मां की मंगलवार सुबह गोलीयो से भून डाला. घर में सुबह पूजा-पाठ कर रहे पिता को वकील पुत्र ने पहले गालियां दी और बात बढ़ने पर पिता और मां दोनों को गोली दाग दी.

इससे बुजुर्ग माता-पिता की तुरंत मौत हो गई. पुलिस के अनुसार, पिता और बेटे के बीच प्रथम संपत्ति का विवाद लगता है.

पुलिस के अनुसार, बुजुर्ग दंपत्ति लालता प्रसाद गंगवार (76) और उनकी पत्‍नी मोहनी देवी (70) सुबह पूजा-पाठ कर रहे थे, इस दौरान अचानक बेटे दुर्वेश ने आकर मां-बाप को गालियां देना शुरू कर दी और मारपीट करने लगा.

इसके बाद बात बढ़ने पर उसने फायर कर दिया जिससे बुजुर्ग माता-पिता की मौके पर ही मौत हो गई और आरोपी वहां से भाग गया. घटना की सूचना मिलते ही वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रोहित सिंह सजवाण पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे

SSP सजवाण ने बताया कि आरोपी दुर्वेश गंगवार संपत्‍त‍ि के विभाजन को लेकर बुजुर्ग मां-बाप से खफा था. उन्होंने बताया कि वकील दुर्वेश अपनी बीवी-बच्‍चों संग मीरगंज की टीचर्स कालोनी में रहता था.

आरोपी बेटे को लगता मां-बाप ने उसके भाई उमेश को अधिक संपत्‍त‍ि दे रखी थी और उसे ही हर प्रकार से सहयोग करते थे. सजवाण ने बताया है कि दुर्वेश सुबह पांच बजे गांव पहुंचा और पहले भजन-पूजा कर रहे पिता लालता प्रसाद और मां मोहनी देवी से मार-पीट की. इसके बाद उसने दोनों को गोलियो से भून डाला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *