7 साल की बच्ची अपनी सर्जरी के लिए नींबू पानी बेच जमा कर रही पैसे, नहीं बनना चाहती मां पर बोझ

कहते हैं हालात इंसान को वक्त के पहले मैच्योर बना देते हैं। अब 7 साल की इस बच्ची को ही ले लीजिए। इस बच्ची के दिमाग में दिक्कत है जिसके चलते सर्जरी की जरूरत है। ऐसे में बच्ची अपनी सर्जरी के लिए खुद ही पैसे जोड़ रही है। वह नींबू पानी बेच पैसों की जुगाड़ कर रही है। यह नींबू पानी वह अपनी मां की बेकरी में ही बेच रही है।

दरअसल अमेरिका के अलबामा में रहने वाली 7 वर्षीय लीजा स्कॉट अपने इलाज के लिए पैसा जोड़ने में लगी हुई है। वह अपनी मां एलिजाबेथ की बेकरी Savage में नींबू पानी का का एक स्टॉल लगाती है। रोजाना जैसे जैसे लोग उसके स्टॉल से नींबू पानी पी रहे हैं वैसे वैसे वह अपने पैसों के लक्ष्य के पास जा रही है।

7 साल की यह बच्ची ये काम इसलिए कर रही है ताकि उसकी मां के ऊपर उसके इलाज का बोझ न पड़ें। लीजा के दिमाग में तीन जगहों पर समस्या है। यह सेलेब्रल मैलफॉर्मेशन नामक बीमारी है। इस बीमारी के चलते बच्ची के दिमाग का दाहिना हिस्सा दिक्कत देता है। उसे इस कारण कई बार दौरे भी पड़ते हैं।

एक महीने पहले तो लीजा बेहोश भी हो गई थी। इस दौरान उसकी मांसपेशियां बहुत खींचा रही थी। आपको जानकारी के लिए बता दें कि सेरेब्रल मैलफॉर्मेशन बीमारी में आमतौर पर एक ही टाइप का मैलफॉर्मेशन होता है, लेकिन लीजा के मामले में यह तीन जगहों पर है जिसके चलते उसे बहुत दिक्कत हो रही है।

बॉस्टन चिल्ड्रन हॉस्पिटल में लीजा अपनी पहली सर्जरी करवाएगी। लीजा काफी बहादुर और हिम्मत वाली भी है। जब भी उसे दिमाग में दिक्कत होती है और नींद नहीं आती है तो वह भगवान से प्रार्थना करती है। इससे उन्हें बीमारी से लड़ने में ताकत मिलती है। वैसे तो लीजा की मां द्वारा बेटी का इंश्योरेंस कवर बढ़ाया गया था लेकिन ट्रैवल, होटल का खर्च, दवाइयों से खर्चा और भी बढ़ जाता है।

आशा है कि लीजा जल्द ही अपनी सर्जरी के लिए पैसे जुगाड़ लेगी और पूरी तरह से ठीक हो जाएगी। ये 7 साल की बच्ची हम सभी के लिए प्रेरणा है। आजकल तो बड़े बड़े नौजवान भी पैसों के लिए माता पिता पर निर्भर रहते हैं। लेकिन इस सात साल की बच्ची ने मां के ऊपर बोझ न बनकर खुद पैसे कमाकर एक मिसाल साबित की है।

यदि आपको बच्ची की ये कहानी पसंद आई तो इसे अधिक से अधिक लोगों के साथ शेयर जरूर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *