15 साल की लड़की रोते हुए पहुंची थाने, बताया कैसे जीजा ने की जबरदस्ती, दीदी ने भी दिया साथ

भारत सरकार ने देश में शादी की उम्र फिक्स कर रखी है। लड़की की शादी की न्यूनतम उम्र 18 साल जबकि लड़के की 21 वर्ष है। इससे काम उम्र की शादी बाल विवाह की श्रेणी में आती है। ये कानूनन अपराध भी है। लेकिन फिर भी देश के कई हिस्सों में ऐसी चोरी छिपे शादियां होती रहती है। कई बार इसमें लड़की की मर्जी शामिल नहीं होती है। लेकिन उसके घर वाले जबरन ये शादी करवा देते हैं। अब हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले (Una district) का यह मामला ही ले लीजिए।

यहां एक नाबालिग लड़की रोते हुए थाने पहुंची। उसने बताया कि कैसे उसके जीजा और दीदी ने जबरन उसकी शादी करवा दी। उसे अपने जीजा और दीदी की यह हरकत बिल्कुल पसंद नहीं आई। ऐसे में उसने दोनों के खिलाफ थाने में शिकायत भी दर्ज करवा दी। लड़की बुधवार को महिला थाना ऊना में पहुंची। उसने अपनी उम्र 15 वर्ष बताई।

लड़की ने रोते हुए बताया कि कैसे 9 मार्च 2021 को उसकी सगी बहन और जीजा ने उसकी मर्जी के खिलाफ उसकी शादी एक शख्स से कर दी। लड़की का कहना है कि वह अभी शादी नहीं करना चाहती थी। उनसे इस बात का विरोध भी किया था। लेकिन घरवालों ने उसकी बात नहीं सुनी। उलट उसके साथ जबरदस्ती की और शादी करवा दी।

पीडिता ने बताया कि शादी के बाद वह बड़ी मुश्किल से घर से बाहर निकली और थाने पहुंची है। अब वह पुलिस से न्याय की मांग कर रही है। उसकी इच्छा है कि ये शादी रद्द करवा दी जाए। उसका दुखड़ा सुन पुलिस भी भावुक हो गई। उन्होंने लड़की को आश्वासन दिया कि वे उचित एक्शन लेगी। नाबालिग की शिकायत पर पुलिस ने पूरा मामला भी दर्ज कर लिया है।

डीएसपी हैडक्वार्टर रमाकांत ठाकुर के मुताबिक पुलिस स्वर पीडि़ता की शिकायत पर इसके जीजा, बहन और एक अन्य शख्स पर चिल्ड्रन मैरिज प्रोविशन एक्ट के अंतर्गत केस दर्ज करा गया है। फिलहाल मामले की डिटेल में जांच की जा रही है। जांच में जो तथ्य सामने आएंगे उसके अनुसार आरोपियों पर उचित कार्रवाई की जाएगी।

यह पूरा मामला सच में बेहद दुखद है। 15 साल की उम्र पढ़ाई लिखाई की होती है। इस उम्र में लड़की की शादी होने से उसका जीवन तबाह हो जाता है। वह मानसिक रूप से इस उम्र में शादी के लिए रेडी भी नहीं होती है। यदि आप भी अपने आसपास बाल विवाह जैसी घटनाएं देखें तो तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दें। इस तरह एक लड़की का जीवन तबाह होने से बच जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *