न जाने क्यों इस जगह पर हो जाते है, गायब जहाज… जानिए.

दुनिया में आज भी कई ऐसे स्थान मौजूद हैं जो उस जगह से भरे हुए हैं। इन स्थानों का रहस्य हल करने की हिम्मत किसी में नहीं है। इन स्थानों में से एक जगह बरमूडा ट्रायंगल है। बरमूडा ट्रायंगल अटलांटिक महासागर में है और ये एक मिस्त्री वाली जगह है। इस जगह का रहस्य क्या है इसकी खोज में कई लोगों ने अपनी जान गवां दी है। आज हम आपको इस मिस्त्री की जगह के बारे में चौंकाने वाली बातें बताने जा रहे हैं। जिनको पढ़कर आप भी हैरान रह जाएंगे।

अटलांटिक महासागर का बरमूडा ट्रायंगल सदियों से एक शानदार जगह बना हुआ है। कहा जाता है कि इस जगह से गुजरने वाले हवाई जहाज कहीं खो जाते हैं। जहाजों के गायब होने की क्या वजह है इसके बारे में अभी तक किसी को कुछ पता नहीं चल रहा है। हालांकि ऐसे अटकलें लगाई जाती हैं कि कुछ अज्ञात और देवी ताकतें यहां मौजूद हैं। जो कि यहां से गुजरने वाले हवाई जहाजों को गायब कर देता है।

कई समय तक बरमूडा ट्रायंगल के बारे में किसी को भी जानकारी नहीं थी। इसकी खोज सबसे पहले क्रिस्टोफर कोलंबस ने की थी और उन्होंने अपने लेखों में इसका जिक्र करते हुए लिखा था कि ये एक त्रिकोण जैसा जगह है। इसके अलावा इन्होंने यहां पर होने वाली गतिविधियों का जिक्र भी किया था।

इस क्षेत्र में जहाजों के गायब होने के कारण, कई शोध और अध्ययन किए जा चुके हैं। लेकिन अभी तक जहाजों के गायब होने की असली वजह पता नहीं चल सकी है। हालांकि बरमूडा ट्रायंगल में जहाजों के गायब होने के पीछे वैज्ञानिक मौसम को जिम्मेदार मानते हैं।

वैज्ञानिक के अनुसार बरमूडा ट्रायंगल के आसपास खतरनाक हवाएं चलती हैं और इनकी रफ्तार 170 मील प्रति घंटे रहती है। जिसकी वजह से हवाई जहाज यहां पर संतुलन खो बैठते हैं और हादसे का शिकार हो जाते हैं। एक अनुमान के अनुसार अभी तक लगभग 50 जहाज और 20 विमान यहां से लापता हो चुके हैं।

बरमूडा ट्रायंगल उत्तर अटलांटिक महासागर में स्थित ब्रिटेन का प्रवासी क्षेत्र है। ये संयुक्त राज्य अमेरिका के पूर्वी तट पर मियामी से महज 1770 किलोमीटर और हैलिफैक्स, नोवा स्कोटिया, (कनाडा) के दक्षिण में 1350 किलोमीटर की दूरी पर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *