रानू मंडल को लौटना पड़ा वापस अपने घर…

पश्चिम बंगाल के राणाघाट रेलवे स्टेशन पर बैठकर लता मंगेशकर की आवाज़ में गीत गाने वाली रानू मंडल अपने इस टैलेंट को लेकर रातोरात ही सुपरस्टार बन गई थी।

अपने एक वीडियो के चलते रानू मंडल ने पूरे देश में अपनी एक अलग पहचान बनाई ली थी। जिसके बाद रानू मंडल को हिमेश रेशमिया ने अपनी फिल्म ‘हैप्पी हड्डी और हीर’ में गाने का मौका दिया। केवल देखने के लिए रेलवे स्टेशन पर गा गाकर गुजर बसर करने वाली महिला बुलंदियों की ऊंचाइयां छूने लगीं, हालांकि, उनसे से कामयाबी झेली नहीं गई।

सोशल मीडिया पर उनकी कई ऐसी वीडियो वायरल हुईं जहां वो लोगों के साथ गलत बर्ताव करती नज़र आईं। जैसे ही लॉकडाउन आया रानू मंडल फिर से अपनी पुरानी जिंदगी में लौट आईं।

फरवरी में ही रानू ने अपना नया घर छोड़ दिया था और अपने पुराने घर लौट रहे थे। उनके आस-पास के लोग बताते हैं कि अब रानू के पास कोई बड़ा काम नहीं है। इसलिए वह सभी से बचती नज़र आती हैं।

हालांकि लॉकडाउन के दौरान अपना बर्ताव ठीक करते हुए रानू ने ज़रूरतमंदो के बीच राशन भी बांटा। लेकिन वे ये काम ज्यादा देर तक नहीं कर पाए। वैसे एक वक्त ऐसा भी था जब रानू की आवाज का हर कोई दिवाना बन गया था।

वहीं पिछले साल 31 दिसंबर को, मुंबई के एक निजी टीवी चैनल पर साल के अंत के कार्यक्रम में कलाकारों की लिस्ट में रानू को शामिल किया गया था। रानू मंडल इस अवसर पर उपस्थित होने वाले थे। लेकिन फैंस के साथ हुई घटना के बाद, अधिकारियों ने रानू का नाम लिस्ट से हटा दिया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *