राज्यों के कोरोना वैक्सीन स्टॉक खत्म होने के दावे पर आया स्वास्थ्य मंत्रालय का बयान, बताई सच्चाई

कोरोना वायरस टीकाकरण अभियान तेजी के साथ किया जा रहा है और अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है। इस अभियान के तहत अभी केवल 45 से अधिक आयु के लोगों को कोरोना की वैक्सीन दी जा रही है। जिस तरह से कोरोना वायरल फैल रहा है। उसके देखते हुए कई शहरों में तो 24 घंटों टीकाकरण किया जा रहा है। हालांकि इसी बीच कई राज्य सरकारों ने वैक्सीन की कमी की बात कही है। महाराष्ट्र सरकार की ओर से कुछ दिनों पहले कहा गया था कि उनके पास कोरोना वैक्सीन का स्टॉक खत्म हो गया है। इसी तरह से दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा था कि उनके पास केवल सात दिनों का ही स्टॉक बचा है।

ऐसे बयानों के बाद से कोरोना वैक्सीन की कमी की खबरें सामने आ रही थी और कहा जा रहा था कि वैक्सनी खत्म हो चुकी है। हालांकि अब इस मामले में देश के स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण का बयान आया है और इन्होंने इन खबरों का खंडन किया है। देश के स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कल कहा कि देश में कोरोना वैक्सीन की कोई कमी नहीं है।

इन्होंने कहा कि सुबह 11 बजे तक राज्यों के पास वैक्सीन की 1,67,20,000 डोज बची हुई थी। सरकार वैक्सीन की 2,01,22, 960 डोज इस महीने के अंत तक राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को उपलब्ध कराने जा रही है। हम बड़े राज्यों को एक दिन में 4-5 दिन की वैक्सीन स्टॉक उपलब्ध कराते हैं और फिर उसके बाद नया स्टॉक भेजा जाता है। छोटे राज्यों में एकबार में 7-8 दिन का स्टॉक उपलब्ध कराया जाता है।

इन्होंने आगे कहा कि इस दौरान अगर किसी खास इलाके में वैक्सीन की कमी नजर आती है। तो राज्यों को चाहिए कि वैसे इलाके जहां खपत कम है, वहां से वैक्सीन लाकर शॉर्टेज वाले इलाके में सप्लाई करें।

मंगलवार को दी 25 लाख को कोरोना वैक्सीन

मंगलवार को 25 लाख से अधिक लोगों को कोरोना वायरस का टीका लगाया गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में अब तक दिए गए टीकों की कुल संख्या बढ़कर 11,10,33,925 तक पहुंच गई है। इनमें 90,48,079 स्वास्थ्य कर्मी भी शामिल हैं। जिन्होंने टीकों की पहली खुराक ली है। वहीं 55,80,569 स्वास्थ्य कर्मियों ने दूसरी खुराक ली है।

सरकार के आंकड़ों के अनुसार मंगलवार को 67,893 केंद्रीयों में ये वैक्सीन दी गई है। पहले औसतन किसी भी दिन 45,000 कोविड टीकाकरण केंद्र चालू रहते थे। चालू टीकाकरण केंद्रों की संख्या में करीब 21,000 की वृद्धि हुई है।

अभी तक 45 से 60 आयु वर्ग के 3,55,65,610 लाभार्थियों ने पहली खुराक ली है। जबकि 8,17,955 लाभार्थियों ने दूसरी खुराक ली हैं। जबकि 60 साल से अधिक आयु वर्ग के 4,24,18,287 लोगों ने पहली व और 24,60,262 ने दूसरी खुराक ली हैं। आपको बता दें कि पूरे देश में कोविड टीकाकरण अभियान 16 जनवरी को शुरू किया गया था और तेजी के साथ अधिक से अधिक लोगों को कोरोना की वैक्सीन दी जा रही है। ताकि कोरोना की चेन को तोड़ा जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *