मौलाना ने महिला को नौकरी देने के बहाने बुलाया घर और लगा दी दरवाजे की कुंडी, जाने फिर क्या हुआ

नौकरी दिलाने के बहाने महिलाओं का फायदा उठाने के कई मामले सामने आते रहते हैं। ऐसा ही एक मामला बिहार की राजधानी पटना में देखने को मिला है। यहां एक मौलाना ने महिला को जॉब देने के बहाने अपने घर बुलाया और फिर उसके साथ घिनौना काम किया। हैरत की बात ये थी कि मौलाना जब महिला संग ये गंदा काम कर रहा था जब महिला के बच्चे कमरे के बाहर बैठे थे। अब पीड़ित महिला ने न्याय के लिए अदालत का दरवाजा खटखटाया है।

महिला का आरोप है कि मुसलमानों की एक बड़ी संस्‍था के नाजिम (Nazim) ने उसके साथ जबर्दस्‍ती और छेड़खाड़ की है। महिला ने बताया कि मौलाना ने नौकरी का लालच देकर उसे अपने घर बुलाया था। जब महिला उसके घर गई तो मौलाना ने उसे कमरे में बंद कर दिया और घिनौना काम करने लगा। महिला ने इसका विरोध किया, वह अपनी इज्जत बचाने के लिए गिड़गिड़ाई लेकिन मौलना पर इसका कोई असर नहीं हुआ।

महिला ने बताया कि मौलाना नाजि‍म जिस संस्था के पदाधिकारी हैं, उसका मुस्लिमों की एक बड़ी आबादी के मध्य गहरा दबदबा है। ये संस्था घरेलू और मजहबी केस में लोगों को मार्गदर्शन दिखाती है और साथ ही कई सामाजिक कार्य भी करती है। महिला बताती है कि मौलाना ने उसके साथ यह गंदा काम 11 महीने पहले किया था। उसने महिला को जान से मारने की धमकी भी दी थी जिसके चलते महिला अब तक चुप थी।

घटना 22 अप्रैल, 2020 की है। तब कोरोना की वजह से महिला की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी। उसे जॉब की तलाश थी। मौलाना ने उससे नौकरी दिलाने की बात कही थी। इसी सिलसिले में वह उसके घर गई थी। इस दौरान उसके बच्चे भी साथ में गए थे। ऐसे में मौलाना ने महिला के बच्चों को कमरे के बाहर बैठा दिया और कमरे का दरवाजा बंद कर महिला के साथ जोर जबरदस्ती की थी।

महिला अब अपने लिए न्याय मांग रही है। उसकी इच्छा है कि मौलाना को इस गंदे काम की कड़ी से कड़ी सजा दी जाए। वहीं दूसरी तरफ पुलिस ने महिला की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है। वह इस मामले की गहराई से जांच कर रही है।यह बहुत ही दुख की बात है कि महिलाओं को देश में इतना कुछ सहना पड़ता है। आजकल महिलाएं कहीं भी सुरक्षित नहीं है। महिला की मजबूरी का लोग अक्सर फायदा उठाते हैं। इसलिए यदि आप भी एक महिला हैं तो हर कदम पर सतर्क रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *