महाराष्ट्र में हालात सबसे खराब, कोरोना ने फिर से मचाया आतंक, 24 घंटे में 35 हजार से ज्‍यादा केस

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों ने एक बार फिर से केंद्रीय सरकार की चिंता बढ़ा दी है और हर दिन कोरोना के केस बढ़ते जा रहे हैं। देश में पिछले 24 घंटे के अंदर 35 हजार से ज्‍यादा नए मामले सामने आए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में कारोना वायरस संक्रमण के 35,871 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 171 लोगों की मौत हुई है। कोरोना के नए मामले सामने आने के बाद देश में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या एक करोड़ 14 लाख 74 हजार 605 हो गई है। देश में अब तक 1 करोड़ 10 लाख 63 हजार 25 लोग रिकवर हो चुके हैं और इस समय 2 लाख 52 हजार 364 एक्टिव केस हैं। जबकि देश में मृतकों की संख्या बढ़कर 1 लाख 59 हजार 216 हो गई है।

आईसीएमआर की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, देश में पिछले 24 घंटे के अंदर 10,63,379 कोरोना जांच की गई है। इस समय सबसे बुरे हालात महाराष्ट्र के हैं। जहां पर बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 23,179 नए मामले सामने आए हैं। जो 2021 में एक दिन में दर्ज किए गए सबसे अधिक मामले हैं। 24 घंटों के अंदर इस राज्य में 84 लोगों की मौत हो गई है। जिसके साथ ही यहां मृतकों की संख्या 53,080 हो गई। इस राज्य में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 23,70,507 हो गई है।

आपको बता दें कि 11 मार्च के बाद से भारत में रोजाना 20 हजार से ज्यादा मामले दर्ज हो रहे हैं। वहीं महाराष्ट्र के दो शहरों नागपुर और पुणे में कोरोना सबसे ज्यादा फैला है। नागपुर में पिछले 24 घंटे में 3,370 नए केस आए हैं और 16 लोगों की मौत हो गई है। नागपुर में फैले कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए यहां पर लॉकडाउन तक लगाया गया है। लेकिन लोग फिर भी मान नहीं रहे हैं। यहां 15 मार्च से 21 मार्च तक लॉकडाउन लगाया गया है। प्रशासन ने फैसला लिया है कि दोपहर 1 बजे के बाद सब्जी, राशन, डेली नीड्स, मांस सहित सभी दुकाने बंद रहेंगी। वहीं बात की जाए मुंबई की तो यहां पर 24 घंटे में 2377 नए केस आए हैं और इस अवधि में 8 मरीजों ने दम तोड़ा।

इस वजह से फैल रहा कोरोना

महाराष्ट्र में कोरोना के फैलने का सबसे बड़ा कारण लोगों की लापरवाही है। लोगों की लापरवाही के कारण इस राज्य में कोरोना के मामलों में एकदम से उछाल आया है। वहीं केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का कहना है कि इस राज्य में कोरोना की वैक्सीन का कम प्रयोग हो रहा है। जिसके कारण भी यहां पर हालात बिगड़ रहे हैं। प्रकाश जावड़ेकर ने बुधवार को ट्वीट कर लिखा कि महाराष्ट्र ने अबतक सिर्फ 23 लाख वैक्सीन का इस्तेमाल किया है, जबकि केंद्र द्वारा कुल 54 लाख दवाई भेजी हैं। 56 फीसदी वैक्सीन का इस्तेमाल नहीं हुआ है। अब शिवसेना के सांसद और वैक्सीन मांग रहे हैं।

महाराष्ट्र के अलावा पंजाब में भी कोरोना बेकाबू हो रहा है। इस राज्य में मार्च से हर रोज करीब एक हजार नए मामले सामने आ रहे हैं। लेकिन बुधवार को ये संख्या 2 हजार के पास पहुंच गई है। पंजाब में 15 फरवरी से 15 मार्च के बीच 392 मौतें हुई हैं।

विशेषज्ञों के अनुसार जनवरी और फरवरी में मामलों में काफी कमी आई थी। जिसके कारण लोगों ने मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना बंद कर दिया। यहीं कारण है कि अब एक बार फिर से कोरोना फैल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *