भाजपा के हुए ‘रामायण’ के ‘श्री राम’ अरुण गोविल, बोले- मेरे दिल दिमाग में जो होता है कर देता हूं

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव की सरगर्मी के बीच लगातार कई मशहूर हस्तियां भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम रही हैं. बीते दिनों कोलकाता में पीएम मोदी की रैली के दौरान हिंदी सिनेमा के दिग्गज़ अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती ने भाजपा का दामन थामा था, वहीं अब एक और मशहूर अभिनेता भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए हैं.

बता दें कि, टीवी के मशहूर धारावाहिक ‘रामायण’ में भगवान श्री राम का किरदार निभाने वाले अरुण गोविल ने बीते कल भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ले ली. उन्हें गुरुवार को दिल्‍ली में बीजेपी कार्यालय में बीजेपी के राष्‍ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने सदस्यता दिलाई. खबर है कि, अरुण गोविल पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में भाजपा के लिए प्रचार करते हुए नज़र आ सकते हैं.

भाजपा का दामन थामते ही अरुण गोविल बंगाल की सीएम ममता बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस पर भी बरसते हुए नज़र आए. उन्होंने ममता बनर्जी को ‘जय श्री राम’ के नारे पर होने वाली आपत्ति के चलते घेरा है. गोविल ने कहा कि, ‘मैंने पहली बार देखा कि ममता बनर्जी को ‘जय श्री राम’ के नारे से एलर्जी हुई. जय श्री राम केवल एक नारा नहीं है.’

PM मोदी के हुए मुरीद…

जहां एक ओर अरुण गोविल ने ममता बनर्जी और टीएमसी पर निशाना साधा तो वहीं दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वे कायल नज़र आए. अरुण गोविल ने पीएम मोदी की तारीफों के पुल बांधते हुए कहा कि, ‘इस समय जो हमारा कर्तव्‍य है वो करना चाहिए. मुझे राजनीति आज से पहले समझ नहीं आती थी. लेकिन मोदी जी ने जब से देश को संभाला है तब से देश की परिभाषा ही बदल गई है. मेरे दिल दिमाग में जो होता है कर देता हूं.’

ठुकरा चुके हैं कांग्रेस का ऑफर…

गौरतलब है कि, पहले अरुण गोविल को कांग्रेस पार्टी की ओर से भी ऑफर मिल चुका है, लेकिन उन्होंने कांग्रेस का ऑफर स्वीकार नहीं किया था. पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी कांग्रेस के टिकट पर अरुण गोविल को चुनाव लड़वाना चाहते थे, हालांकि अरुण गोविल पूर्व पीएम के ऑफर से असहमत दिखें.

बंगाल चुनाव में भरेंगे हुंकार…

पश्चिम बंगाल चुनाव इन दिनों पूरे देश में चर्चा का विषय बना हुआ है. बता दें कि, बीते दिनों चुनाव आयोग ने बंगाल चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है. राज्य में कुल 8 चरणों में वोट डाले जाएंगे. वहीं चुनाव के नतीजे 2 मई को घोषित होंगे. बताया जा रहा है कि, अब अरुण गोविल भाजपा में शामिल होने के बाद बंगाल चुनाव में पार्टी के लिए प्रचार कर सकते हैं. बीजेपी को अरुण गोविल जैसी शख़्सियत का फायदा इस चुनाव में मिल सकता है.

‘रामायण’ के ‘रावण’ और ‘सीता’ भी बीजेपी का हिस्सा…

बता दें कि, अगर भारतीय जनता पार्टी अरुण गोविल को बंगाल चुनाव में टिकट देती है तो ऐसा तीसरी बार होगा जब ‘रामायण’ का कोई कलाकार भाजपा के टिकट से चुनावी मैदान में होगा. इससे पहले ‘रामायण’ के रावण यानी कि अरविंद त्रिवेदी और ‘रामायण’ की माता सीता यानी कि दीपिका चिखलिया भी भाजपा के टिकट से चुनाव लड़ चुके हैं. साल 1991 में गुजरात के साबरकांठा सीट से अरविंद त्रिवेदी चुनाव लड़े थे और उन्हें जीत मिली थी. वहीं साल 1991 में ही ‘रामायण’ की ‘सीता’ यानी दीपिका चिखलिया भी गुजरात की बड़ोदा सीट से चुनाव लड़कर जीत हासिल कर चुकी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *