बदमाशों ने 15 साल की लड़की को किया किडनेप, मास्क हटाया को शक्ल देख बोले- सॉरी गलती हो गई..

कोरोना काल में हर कोई मास्क लगाकर घूम रहा है। मास्क लगाने के कई फायदे होते हैं। बस इसमें एक समस्या ये है कि कई बार हम ठीक से चेहरे पहचान नहीं पाते हैं। जब किसी के चेहरे पर मास्क लगा होता है तो उसकी पहचान करने में गलती हो जाती है। ऐसी ही एक गलती राजस्थान में एक किडनेपर गैंग को हो गई। यहां चार पांच बदमाशों ने मिलकर एक 15 साल की लड़की का अपहरण कर लिया। हालांकि जब उन्होंने लड़की का मास्क हटाया तो दंग रह गए।

दरअसल किडनेपरों ने जिस लड़की को अगवा किया था वह वो यह नहीं थी। गलत लड़की को किडनेप करने के बाद वे कहने लगे कि यार बहुत बड़ी गलती हो गई। चलो इसे वापस छोड़ देते हैं। ये अजीबोगरीब मामला अलवर शहर के दारूकूटा कालोनी का है। यहां 10वीं क्लास में पढ़ने वाली बच्ची चेहरे पर मास्क लगाकर अपनी सहेली के घर पैदल जा रही थी। रास्ते में एक वैन आकर उसके सामेन खड़ी हो गई। इस वैन में से चार पांच लोग उतरे और लड़की के चेहरे पर कपड़ा डाल उसे अगवा कर ले गए।

वैन जब शहर के बाहर गई तो उन्होंने लड़की के चेहरे से मास्क हटाया। मास्क हटाते ही उनके होश उड़ गए। वे बोलने लगे कि ये वह लड़की नहीं है जिसे हम किडनेप करने आए थे। ऐसे में बदमाशों ने लड़की के कान के टॉप्स उतार लिए और उसे वैन से ट्रांसपोर्ट नगर में छोड़ भाग गए।

उधर बेटी के गायब होने पर परिजन पुलिस के पास शिकायत दर्ज करवाने गए थे। हालांकि इसके कुछ देर बाद ही लड़की ने अपनी मां को फोन कर बताया कि वह कहां है। लड़की अपने घर सकुशल पहुंच गई। घर पहुंचते ही लड़की ने परिवार और पुलिस को सारी कहानी सुनाई। लड़की की बातें सुनने के बाद पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। फिलहाल वे इस मामले की गहराई से जांच कर रहे हैं।

उधर कुछ लोग इस बात पर भी सवाल खड़े कर रहे हैं कि आखिर पुलिस के होते हुए कोई दिन दहाड़े लड़की को किडनेप कैसे कर सकता है। क्या लड़कियां अब सेफ नहीं रही? ये पूरा मामला इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है। हर कोई इस बारे में बात कर रहा है। साथ ही उन्हें अपनी बेटियों की सुरक्षा की चिंता भी सता रही है। वे मांग कर रहे हैं कि शहर में सुरक्षा का स्तर बढ़ाया जाए। साथ ही उन बदमाशों को जल्द से जल्द ढूंढकर जेल में डाला जाए ताकि वे फिर से ऐसी वारदात न कर सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *