कोरोना के कारण ओडिशा बंद करेगा छत्तीसगढ़ सीमा, 10 अप्रैल से रेल सेवा भी रद्द, पाबंदियों पर सख़्ती

भुवनेश्वर : एक बार फिर से वैश्विक महामारी कोरोना ने भारत में विकराल रूप ले लिया है. अब तो स्थिति यह है कि देश में बीते वर्ष की तुलना में अधिक नए केस सामने आ रहे हैं. कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए एक बार फिर से केंद्र के साथ ही राज्य सरकारें भी सतर्क हो गई है और हर राज्य सरकार अपने-अपने स्तर पर कोरोना ऐसे निपटने के लिए योजना बना रही है. अब ओडिशा सरकार ने भी नए कदम उठाए हैं.

बता दें कि, अब ओडिशा सरकार ने कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ सीमा को सील करने का निर्णय लिया है. साथ ही ओडिशा की नवीन पटनायक सरकार ने अब वाहनों के आवागमन पर लगे प्रतिबंध में और अधिक सख्ती बरतने का फ़ैसला लिया है. अब राज्य में दूसरे किसी प्रदेश से आने वाले किसी भी व्यक्ति को 72 घंटे के अंदर आरटीपीसीआर टेस्ट कराने के बाद उसे निगेटिव रिपोर्ट सौंपनी होगी.

शनिवार से रेल सेवा रद्द…

शनिवार से ओडिशा में सरकार ने रेल सेवा रद्द करने का ऐलान भी कर दिया है. जानकारी के मुताबिक़, अब ओडिशा में छत्तीसगढ़ से कोई भी रेल प्रवेश नहीं कर सकेगी. इस संबंध में जानकारी रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष सुनीत शर्मा को मुख्य सचिव महापात्र ने पत्र लिखकर दी है.

दूसरी ओर अब ओडिशा में टीकाकरण के कार्य में भी वृद्धि की जाएगी. ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री ने जानकारी देते हुए कहा है कि, प्रदेश में हर दिन ढाई लाख लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा गया है. जबकि बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए सरकार ने सरकारी एवं निजी अस्पताल को तैयार रखने का जिलाधीश एवं अस्पताल अधिकारियों को निर्देश दिया है.

ओडिशा में कोविड 19 की स्थिति…

ओडिशा में अब तक कोरोना वायरस के करीब साढ़े तीन लाख मामले सामने आ चुके हैं. इनमें से नए केस 879 है. वहीं अब तक करीब 3 लाख 40 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं. जबकि कुल 1923 लोगों की मौत प्रदेश में इस खतरनाक महामारी से हुई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *