कोरोना काल में ओडिशा की जनता को पड़ी दोहरी मार, महंगी हुई बिजली, जानें कितने बढ़े दाम

कोरोना संकट के बीच जहां लोगों की नौकरी पर खतरा बना हुआ है। उसी बीच अब बिजली की दरों को भी महंगा कर दिया गया है। जिसके साथ ही आम आदमी पर अब दोहरी मार पड़ी है। ओडिशा विद्युत नियामक आयोग (OERC) ने शनिवार को राज्य में बिजली दरों में 30 पैसे प्रति यूनिट की बढ़ोतरी का प्रस्ताव रखा है। जिसके साथ ही इस राज्य में अब बिजली महंगी हो जाएगी। इस बारे में जानकारी देते हुए OERC ने कहा कि ओवरऑल रिटेल सप्लाई फीस में ये 5.60 प्रतिशत की बढ़ोतरी है। मिनिमम फिक्स्ड रेट में बदलाव नहीं है। OERC के सचिव प्रियव्रत पटनायक ने कहा कि रिटेल इलेक्ट्रिसिटी रेट में बढ़ोतरी करीब 5.6 प्रतिशत होगी। बीपीएल और सिंचाई उपभोक्ताओं के लिए दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। नई दरें 4 अप्रैल से लागू होंगी। मासिक न्यूनतम निश्चित शुल्क, मांग बदलाव और मीटर के किराये में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

बिहार में भी बढ़ें बिजली के दाम

ओडिशा की तरह ही बिहार में भी बिजली के दामों को बढ़ाया गया है। बिहार विद्युत विनियामक आयोग (BERC) ने औसतन 0.63 प्रतिशत के इजाफे का ऐलान किया है। ये नई दरें राज्य में 1 अप्रैल से लागू हो जाएगी। इस बढ़ोतरी का असर ग्रामीण और शहरी दोनों इलाकों में रहने वाले लोगों पर पड़ेगा।

नई दरें लागू होने के बाद शहरी घरेलू बिजली उपभोक्ताओं के लिए प्रति यूनिट बढ़ोतरी 5 से 35 पैसे के बीच होगी। पहले 100 यूनिट के लिए उन्हें 6.05 रुपये प्रति यूनिट की मौजूदा दर से भुगतान करना होता था। जो कि 1 अप्रैल से 0 से 100 यूनिट के बीच अब 6.10 रुपये प्रति यूनिट होगा। जबकि 101 से 200 यूनिट के लिए इस समय 6.85 रुपये प्रति यूनिट लिए जाते हैं, जो कि अगले महीने से 6.95 रुपये प्रति यूनिट होगा। इसी तरह से 201 से 300 यूनिट के लिए मौजूदा 7.70 रुपये प्रति यूनिट की जगह अब 8.05 रुपये प्रति यूनिट की आम आदमी को देनी होगा। 300 यूनिट से ऊपर 8.50 रुपये प्रति यूनिट की दर से चार्ज किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *