कुत्ते के न कहने पर राजकुमार ने छोड़ दी थी यह हिट फ़िल्म, बाद में यह एक्टर बन गया रातोंरात स्टार

हिंदी सिनेमा के दिग्गज़ अभिनेता अमिताभ बच्चन ने अपने 51 साल के फ़िल्मी करियर में एक से बढ़कर एक हिट फ़िल्में दी हैं. साल 1969 में फिल्म सत्ता हिन्दुस्तानी से अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत करने वाले अमिताभ बच्चन को शुरुआती दौर में लंबा संघर्ष करना पड़ा था, तब जाकर वे अपनी पहचान बनाने में कामयाब रहे थे.

साल 1973 में आई फ़िल्म (Film Zanjeer) ने अमिताभ बच्चन को एक ख़ास पहचान दिलाई थी. इस फ़िल्म की अपार सफलता ने अमिताभ बच्चन को हिंदी सिनेमा का एंग्री यंग मैन बना दिया था. लेकिन इस बात से बहुत कम लोग वाक़िफ़ है कि, अमिताभ बच्चन से पहले यह फ़िल्म अपने समय के दिग्गज़ अभिनेता रहे राजकुमार को ऑफर हुई थी, लेकिन राजकुमार ने यह फ़िल्म ठुकरा दी थी. बाद में जब फ़िल्म बिग बी की झोली में आई तो उनकी सफ़लता का सितारा बुलंदियों पर था.

गौरतलब है कि, राजकुमार से जुड़े कई मशहूर किस्से आपको सुनने को मिल जाएंगे. वे अपनी रौबदार आवाज, दमदार अदाकारी के साथ ही अपने शानदार व्यक्तित्व के चलते भी दर्शकों के दिलों पर राज करते थे. बताया जाता है कि, राजकुमार अपनी ही धुन में रहते थे और वे वहीं करते थे जो उन्हें पसंद आता था.

राजकुमार की डायलॉग डिलीवरी के फैंस आज भी कायाल हैं. राजकुमार आज हमारे बीच नहीं है, हालांकि वे अपनी फिल्मों, अदाकारी और किस्सों के चलते सभी के दिलों में ज़िंदा है. ऐसा ही एक किस्सा अमिताभ बच्चन की सुपरहिट फ़िल्म रह चुकी ‘जंजीर’ से भी जुड़ा हुआ है.

साल 1973 में आई फ़िल्म ‘जंजीर’ का निर्देशन प्रकाश मेहरा ने किया था. फ़िल्म की कहानी को सलीम खान और ज़ावेद अख़्तर ने लिखा था. अमिताभ बच्चन से पहले सलीम खान फ़िल्म की कहानी राजकुमार के पास लेकर पहुंचे थे. सलीम यह सोचकर राजकुमार के पास पहुंचे थे कि वे फ़िल्म के लिए एक दम सही साबित होंगे.

राजकुमार से समय मिलने के बाअद सलीम खान फ़िल्म के बारे में बात करने के लिए उनके घर पहुंच गए और उन्हें फ़िल्म की पूरी स्क्रिप्ट सुना दी. आगे जाकर राजकुमार से सलीम ने अपनी राय मांगी. जवाब में इस फ़िल्म के लिए हां कहने के लिए राजकुमार ने अजीब तरीका ढूंढा और अपने कुत्ते को बुलाकर उससे पूछा कि क्या उन्हें इस फ़िल्म में काम करना चाहिए. यह नज़ारा देखकर सलीम खान भी आश्चर्य में पड़ गए.

राजकुमार और सलीम खान की निगाहें कुत्ते पर टिकी हुई थी. तब ही कुत्ते ने भौंककर अपना फ़ैसला सुना दिया. इस पर राजकुमार ने सलीम से कहा कि, भाई तुम्हारी स्क्रिप्ट तो हमारे कुत्ते को पसंद नहीं आई है, तो हमें कैसे आएगी ? इसके बाद सलीम खान राजकुमार के घर से चले गए. आगे जाकर यह फ़िल्म देव आनंद और धर्मेंद्र जैसे दिग्गज़ों को भी ऑफर की गई. हालांकि बात कहीं नहीं बनी. अंत में फ़िल्म गिरी बिग बी यानी कि अमिताभ बच्चन की झोली में और बॉलीवुड को मिला उसका एंग्री यंगमैन.

बता दें कि, 8 अक्टूबर 1926 को पाकिस्तान के लोरालाई में जन्मे राजकुमार का असली नाम कुलभूषण पंडित था. वे सब इंस्पेक्टर की नौकरी छोड़कर फिल्मों में आए थे. कई शानदार फिल्मों में काम करने वाले राजकुमार का 69 साल की उम्र में 3 जुलाई 1996 को मुंबई में निधन हो गया था.

वहीं अमिताभ बच्चन के वर्कफ़्रंट की बात की जाए तो 78 साल की उम्र में भी अमिताभ बच्चन फिल्मों में लगातार सक्रिय हैं. उनकी आगामी फिल्मों में ब्रह्मास्त्र और चेहरे शामिल है. वहीं कुछ दिनों पहले ही उनके टीवी शो कौन बनेगा करोड़पति का 12वां सीजन समाप्त हुआ है. गौरतलब है कि, फ़िल्म ब्रह्मास्त्र और चेहरे जल्द ही रिलीज होने वाली है. ब्रह्मास्त्र में जहां अमिताभ बच्चन के साथ रणबीर कपूर और आलिया भट्ट नज़र आने वाली है. तो वहीं चेहरे में अमिताभ के साथ अहम रोल में इमरान हाशमी देखने को मिलेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *