इस बार नवरात्री के पहले दिन ही है दुर्लभ योग, जान लें आराधना के लिए सही मुहूर्त और पूजा की विधि

नवरात्रि में मां दुर्गा को प्रसन्न करने के लिए उनके नौ रुपों की पूजा-अर्चना और पाठ किए जाते हैं. ताकि उनके भक्तों की मनोकामना पूरी हो सके. नवरात्रि एक साल में चार बार बनाई जाती है. चैत्र, आषाढ़, आश्विन और माह के नवरात्र के महीनों में कुल मिलाकर चार बार नवरात्रि आती हैं. परन्तु हिन्दुओं में वर्षभर में दो बार ही इसे मनाया जाता है. चैत्र की नवरात्रि और एक सर्द की नवरात्री.

वहीं हिन्दू पंचांग के मुताबिक चैत्र की नवरात्रि शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से शुरू होती है. इस बार चैत्र नवरात्रि 13 अप्रैल 2021 से शुरू होने वाली है. नवरात्रि है इसलिए यह 9 दिन तक चलेगी और 22 अप्रैल 2021 को समाप्त हो जाएगी. हिन्दू धर्म मे इस नवरात्रि का विशेष महत्त्व माना जाता है. माना जाता है कि नवरात्रि में 9 दिन मां दुर्गा धरती पर ही निवास करती है. नवरात्रि में मां दुर्गा की विधि विधान से पूजा करने से भक्त की मनोकामना पूरा होती है.

नवरात्री के इन नौ दिनों में मां दुर्गा के अलग-अलग स्वरूपों की पूजा-अर्चना की जाती है. इससे अलग-अलग फलों की प्राप्ति होती है. नवरात्री की पूजा पहले दिन घटस्थापना से शुरू होती है. जिसे नवें दिन पूर्णाहुति करने के बाद ख़त्म कर दिया जाता है. इस बार नवरात्रि पर कई दुर्लभ योग बन रहे है. नवरात्रि के प्रथम दिन अर्थात प्रतिपदा को यह दुर्लभ योग बना रहा है.

नवरात्रि के पहले ही दिन विष्कुंभ व प्रीति योग बनने से इस नवरात्रि का महत्त्व कई गुना बढ़ जाता है. ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक इस योग में घटस्थापना करने और विधि पूर्वक पूजा करने से मां दुर्गा के भक्तों की सभी तरह की मनोकामनाएं पूरी होती है.

घटस्थापना की है ये शुभ मुहूर्त और विधि

हिन्दू पंचांग के अनुसार चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि 13 अप्रैल 2021 दिन मंगलवार को आ रही है. पहले दिन विष्कुम्भ योग दोपहर बाद 03 बजकर 16 मिनट तक रहेगा. इसके बाद प्रीति योग शुरू हो जायेगा. उसके अलावा करण बव सुबह 10 बजकर 17 मिनट तक, बाद बालव रात 11 बजकर 31 मिनट तक रहने वाला है. आपको यह भी बता दें कि इस दिन मेष राशि पर चंद्रमा का संचार रहेगा.

चैत्र नवरात्रि 2021 के दिन पड़ने वाले शुभ योग
विष्कुम्भ योग – 12 अप्रैल के दिन 2021 को दोपहर के बाद 02 बजकर 27 मिनट से 13 अप्रैल 2021 को दोपहर के बाद 03 बजकर 16 मिनट तक रहने वाला है.
प्रीति योग- 13 अप्रैल 2021 के दिन दोपहर 03 बजकर 16 मिनट से लगने के बाद 14 अप्रैल 2021 को शाम 04 बजकर 15 मिनट तक चलेगा.

घटस्थापना का शुभ मुहूर्त जान लें
दिन- मंगलवार तारीख – 13 अप्रैल 2021 शुभ मुहूर्त- सुबह 05 बजकर 28 मिनट से सुबह 10 बजकर 14 मिनट तक. शुभ मुहूर्त की अवधि- 04 घंटे 15 मिनट तक.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *